Dosto फिर से हाजिर हों आपके के सामने एक न्यू चाणक्य नीति को लेकर तो चलिए स्टार्ट करते है।

जो आपसे दूर जा रहा है उसे रुके मत और जिसके साथ हे उससे जल्द ही दूर हो जाए।

क्योंकि अगर आपके घर में कचरा हो जाए तो साफ किया जा सकता हे।

लेकिन अगर कोई आपके दिमाग में कचरा डाल दे तो उसे साफ नही किया जा सकता।

इसीलिए चाणक्य कहते हे की उन लोगो से तुरंत दूर हो जाए जो आपके दिमाग में कचरा डाल रहे हे

इस दुनिया में हर बीमारी का इलाज हे लेकिन कोई आपके दिमाग में गंदगी भर दे उसका इलाज  नही है।

इसीलिए उन लोगो से दूर रहे जो कभी अपने सपनो के बारे बात नही करते और आपके सपनो को  नही सुनते।

चाणक्य कहते है कि अगर अपने सपनो को  सफल बनाना है तो कई बार असफल  होना पड़ता है।

क्युकी असफलता ही सफलता का सही अर्थ है।

Burst

 ऐसी और भी अच्छी अच्छी चाणक्य नीति के।   लिए और motivational स्टोरी के टेलीग्राम ज्वाइन करे।