short moral story in hindi

कछुओं का पिकनिक ।।

एक जंगल मे एक कछुओं का परिवार रहता था और उस परिवार मे पाँच कछुए थे। और वो सभी लोग मिलकर प्लान बनाते हे कि चलो हम सभी लोग पिकनिक पर चलते हे। और सभी लोग आपस मे एक दूसरे से पूछ लेते हे। और बोलते ठीक हे हम सभी लोग पिकनिक पर चलने के लिए तैयार हे। और जो उन सभी ,कछुओं मे जो लीडर कछुआ होता  हे।best motivational story वो बोलता हे ठीक हे तो सभी लोग अपना समान पैक कर लो हम सब लोग निकलेगे।

आज मे आप लोगो को short moral story in हिंदी,best motivational story,motivational story in hindi,motivational kahani hindi, ,Hindi short stories with moral for kids

अब वाहा पर जितने लोग होते वो सभी लोग अपना अपना सामान पैक करना चालू कर देते हे। खाली उन कछुओं को अपना सामान पैक करते करते 5 साल बीत जाते हे। motivational story क्योकि कछुए इतना धीरे धीरे काम करते हे। तो इसी लिए उनको इतना टाईम लग जाता हे। अब सभी लोग अपना सामान पैक करके निकल पड़ते हे पिकनिक के लिए। और उनको पिकनिक के लिए जहां पर जाना होता वाहा तक जाते जाते उन्हें 7 से 8 साल का वक्त लग जाता हे। इतना टाईम बीत जाने के बाद वो वाह पर पहुँच जाते हे। moral story काफी घूमने के बाद उन सभी को भूख लग अति हे। और सभी कछुए बोलते हे चलो यहाँ पर रूककर लुक खा लेते हे। सभी लोग वाहा पर रुकते हे। और उनमे से एक सबके लिए खाना निकलता हे। short moral story in hindi

और परोसत्ता हे।और जैसे हि एक कछुआ उस खाने को टेस्ट करता हे तो उसमें नमक कम निकलता हे। सभी कछुए बोलते हे कि अब किसी एक वापस जाना पढेगे और घर से नमक लाना पड़ेगा। in hindi और सभी कछुए आपस मे बोलते हे तुम जाओ तुम जाओ । इसी मे 2 साल और बीत जाते हे। फिर आख़िरकार उनमे से एक मान जाता हे। और वो चला जाता हे। और उसके जाने के बाद एक साल बीत जाता 2 साल बीत जाता और उन बाकी कछुओं को और भी ज्यादा भूख लगने लगती हे। और सभी लोग उसी खाने को खाने लगते हे। motivational kahani in hindi

जैसे हि खाने को खाने जाते हे। तो वैसे हि वही पीछे पेड़ से वही कछुआ निकला कर आता हे और बोलता हे। मैंने तुम्हें पकड़ लिया तुम मेरे बिना आय हि खाना खाने जा रहे थे। फिर सभी लोग बोलते हे हमसे गलती हो गई हमें तुम्हरे बिना खाना खाना नहीं चाहिए।

तो इस कहानी से हमें क्या शिक्षा मिलती हे ।

हमें इस कहानी से ये शिक्षा मिलती हे कि कभी कभी ज्यादा दिमाग अपने लिए हि घातक बन जाता हे। यही किया उस कछुए ने ज्यादा दिमांग के चक्कर मे इनता टाईम तक भूखा रहना पढ़ा अगर वे यही चीज़ पहले कर लेते तो इतना इंतजार ना करना पड़ता। motivational

[HDquiz quiz = “47”]

short moral story in hindi

! अमीर और गरीब ! short moral story in hindi बेस्ट स्टोरी जरूर पढ़े।

अगर आप लोग भी क्या यही सोचते हे कि हम तो गरीब और देखो जो हमारे बगल मे रहते हे वो हमसे कितने अमीर हे।  देखो ye hindi kahani वो कितने अच्छे से रहते हे। और कितना अच्छा अच्छा खाते हे। कास हम भी अमीर होते तो कितना अच्छा होता और किसी ना किसी के मन यह भी ख्याल आता होगा कि इस धरती ओर जितने भी लोग हे। short moral story in हिंदी

अगर आपको जीवन मे आगे बढ़ना हे। और succes होना हे। तो इस को जरुर पढ़े।short moral story in hindi

उनका सभी का पैसा इक्कठा करके सबको बराबर से बाट दिया जये तो अच्छा होगा सभी लोग अमीर हो जाएंगे तो मे आप लॉगो कि जानकारी के लिए बता दूँ कि अगर सभी का पैसा इक्कठा करके सभी को बराबर मे बाट दिया जshort story in hindi सभी के हिस्से मे 30 30 लाख रूपए आएंगे और सभी लोग आमिर हो जायगे। और वही ये भी होगा कि सभी लोग अमिर तो हो जायगे और उसी के हिसाफ उनकी ज्रूरत भी बढ़ जाएगी। और उनके खर्चे भी। short moral

इसी वजह से सभी तरफ तेजी से मार्किट डाउन होने लगेगी और सभी लोग वापस से गरीब हो जाएंगे।

शिक्षा क्या हे।। शिक्षा यह हे कि पैसे से तो बहुत लोग अमीर हे। पर जो दिल से अमीर होते हे बे लोग पैसे वालोंं से भी ज्यादा अमीर होते हे। तो पैसों से नहीं दिल से आमिर बने।

 short moral story in hindi

” समझदार बन्दर कि कहानी short moral story in हिंदी “

एक बार कुछ वैज्ञानिक ने एक निर्णय लिया कि अगर हमारे पूर्वज बन्दर हि हे तो उनमे हम जैसे कुछ तो गुण होंगे। चलो इन पर कुछ एक्सपेरीमेन्ट करते हे।  फिर सभी वैज्ञानिक एक बड़ा सा पिंजरा लाते हे और उस अंदर एक बड़ी सी सीडी लगा देते हे उस पर कुछ केले रख देते हे।short moral story in hindi

और उसके बाद उस मे 5 बंदरो को डाल दिया गया। जैसे हि उसमें बंदरो को डाला गया तो वो सभी केले कि और जाने लगे। जैसी हि सभी सीडी चढने लगे। तो उनके ऊपर वैज्ञानिको ने ऊपर से पानी डाल दिया। जैसे हि सभी पर पानी पड़ा तो वो नीचे उतर आय।

और वैज्ञानिक बार बार यही करते रहे जैसे हि बन्दर  चढते उन पर पानी डाल देते। ऐसा हि बार बार करने पर वो सभी बन्दर यह समज गए कि ऊपर जाना मना हे। अब उन बन्दर मे कोई भी ऊपर जाने कि कोशिश भी नहीं कर रहा। अब वैज्ञानिक ने पानी डालना भी बंद कर दिया। अब वो चाहे तो अरम से जकर केले खा सकते हे। लेकिन् अब उन्मे से कोइ भि जाने कि कोसिस भि नही कर रहा।

शिक्षा। ये कि चलो वो तो बन्दर थे सही और गलत मे अंतर नहीं मालूम। लेकिन हम तो इंसान हे। कभी ऐसाभि हो जाता हे। कि कोई भी कुछ भी बोल देता हे और हम लोग वैसा हि करने लगते हे। और उससे पूछ्ते भी नहीं हे कि यह क्या हे और ये वजह करा जा रहा हे।

short moral story in hindi

4.महान वैज्ञानिक Albart inistine का रोचक किस्सा।short moral story in hindi

एक बार कि बात हे कि जब महान वैज्ञानिक Albart inistine एक ट्रेन मे सफर कर रहे होते हे। और वाहा पर कुछ डूड रहे हे होते काफी देर तक डूड रहे। होते हे। फिर वाहा पर tt आ जाता हे। वो उनसे बोलता हे। सर मुझे टिकट दिखा दीजिये। मे tt हो। फिर वो यह सुनकर यहाँ वाहा ढूढने लगते हे। फिर वो tt बोलता हे।

सर आप मुझे ये बताए कि आप क्या डूड रहे हे। तो Albart inistine बोलते मे टिकट डूड रहा हो मैंने टिकट लिया था पर वो कहीं गिर गई। वही डूड रहा हूँ। फिर वो tt बोलता हे। कि ठीक हे मे आपको जनता हो आप महान वैज्ञानिक Albart inistine हूँ अपने टिकट लिया होगा कोई बात नहीं गिर गया तो। यह बोलकर वो tt वाहा से चला जाता हे। लेकिन फिर वो ढूढने लगते हे। short moral story in hindi

थोड़ी देर बाद वही tt वापस आता हे तो देखता हे फिर वो कुछ डूड रहे होते हे तो बोलता हे सर मे जनता हूँ आपने टिकट लिया हे आपको टिकट देने कि कोई जरुरत नहीं हे।  फिर वो बोलते हे मे टिकट इस वजह नहीं डूड रहा कि मुझे टिकट आपको देना हे। मे तो टिकट इस वजह डूड रहा हूँ कि मुझे ये पता चल जाए कि मुझे जाना कहा हे। क्युकी मे भूल गया हूँ कि मुझे जाना कहा हे। अब आप लोग हि सोचये कि जिस आदमी iQ level इस पूरी दुनिया मे सबसे ज्यादा हे। वो इतना भुलक्ड कैसे हो सकता हे। new motivational story in hindi

शिक्षा। इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती हे कि कभी कोई भी आदमी हर चीज़ परफेक्ट नहीं हो सकता हे। तो अगर आप लोग ये सोचते हे। कि हम इसमें कमज़ोर हे। तो आप लोग यह मत सोचे कि आप इसमें कमज़ोर हे। तो उसको  करें आप जिसमें परफेक्ट हे।

 

Aur bhi aisi motivational kahaniya padne ke liye short moral story in hindi  best hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here